शीतलहर का रेड अलर्ट, शीतदंश से ठिठुरा उत्तर भारत

0
  • कोल्‍ड डे का अलर्ट जारी
  • दिल्ली में न्यूनतम तापमान 5.7 डिग्री
  • दिल्ली, हरियाणा और उत्तरप्रदेश में घना कोहरा

इन दिनों कड़ाके की ठंड पड़ रही है। पंजाब व उत्‍तरप्रदेश सहित पूरा उत्‍तर भारत भीषण  ठंड से ठिठुर रहा है। सूरज ढलने के बाद मौसम इस कदर कठोर हो जाता है कि बच्‍चों और बुजुर्गों को सुरक्षित रख पाना भी मुश्किल साबित हो रहा है। मौसम विभाग की तरफ से दी जा रही ताजा जानकारी भी राहत देती नजर नहीं आ रही है। आईएमडी (IMD) ने शीतलहर का रेड अलर्ट (red alert) जारी किया है।

 

 

कोल्‍ड डे का अलर्ट जारी :  IMD के अनुसार अगले कुछ दिनों तक प्रकृति से किसी प्रकार के रहम की उम्‍मीद न रखें। ठंड अभी कुछ दिन और ऐसे ही सताने वाली है। हरियाणा सहित दिल्‍ली-एनसीआर में तड़के 3 बजे के बाद शीतलहर का रेड अलर्ट जारी किया गया है।

 

 

 

मौसम विभाग ने 19 तारीख तक के लिए पंजाब, हरियाणा और चंडीगढ़ में कोल्‍ड डे अलर्ट जारी किया है। शीतलहर का प्रकोप कल यानी गुरुवार को दिल्‍ली-एनसीआर सहित पश्चिमी उत्‍तरप्रदेश में रहेगा। हालांकि राहत की बात यह है कि जैसे-जैसे दिन आगे बढ़ रहा है, सूरज की तेज किरणों के साथ धूप निकल रही है। लोग धूप में बैठकर कुछ घंटों के लिए ठंड से राहत जरूर महसूस कर रहे हैं।

 

 

भारत मौसम विज्ञान विभाग (आईएमडी) ने अगले 4-5 दिन उत्तर भारत में घने से अत्यंत घना कोहरा और ठंड से भीषण ठंड की स्थिति बने रहने का अनुमान जताया है। उत्तर-पश्चिम भारत के मैदानी इलाकों में भी अगले 5 दिन तक शीतलहर (cold wave) जारी रहने का अनुमान है।

 

 

आईएमडी ने कहा कि बुधवार को उत्तर-पश्चिम और पूर्वी भारत के कई हिस्सों में न्यूनतम तापमान सामान्य से 1 से 3 डिग्री नीचे दर्ज किया गया। पंजाब और हरियाणा के कुछ हिस्सों में न्यूनतम तापमान 2.5 डिग्री सेल्सियस के बीच रहा जबकि दिल्ली, उत्तरप्रदेश, राजस्थान, उत्तरी मध्यप्रदेश, बिहार, झारखंड और उत्तरी छत्तीसगढ़ के कई हिस्सों में न्यूनतम तापमान 6 से 10 डिग्री सेल्सियस के बीच रहा।

 

 

दिल्ली में न्यूनतम तापमान 5.7 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया, जो इस मौसम के औसत से 2 डिग्री कम है। बुधवार को लोगों को ठंड से थोड़ी राहत मिली, क्योंकि पिछले कुछ दिनों से न्यूनतम तापमान 5 डिग्री सेल्सियस से नीचे दर्ज किया जा रहा था।

 

 

पिछले 24 घंटों की मौसमी हलचल : सिक्किम, पूर्वी बिहार, असम, मेघालय, अरुणाचल प्रदेश और अंडमान और निकोबार द्वीप समूह में हल्की बारिश हुई। पूर्वी उत्तरप्रदेश, बिहार के कई हिस्सों और पश्चिमी उत्तरप्रदेश के कुछ हिस्सों में गंभीर ठंडे दिन की स्थिति देखी गई। पंजाब, हरियाणा के कई हिस्सों और उत्तर-पश्चिमी राजस्थान के कुछ हिस्सों में कोल्ड डे की स्थिति रही।

 

 

पंजाब, हरियाणा, दिल्ली के कई हिस्सों और पश्चिम उत्तरप्रदेश और उत्तरी राजस्थान में 1 या 2 स्थानों पर शीतलहर (cold wave) से लेकर गंभीर शीतलहर (cold wave) की स्थिति उत्पन्न हुई। पूर्वी उत्तरप्रदेश में 1या 2 स्थानों पर शीतलहर (cold wave) की स्थिति उत्पन्न हुई। हरियाणा, पश्चिमी उत्तरप्रदेश, पंजाब और दिल्ली के कुछ हिस्सों में घने से बहुत घना कोहरा देखा गया। पूर्वी राजस्थान, पूर्वी उत्तरप्रदेश, बिहार, पश्चिम बंगाल, अरुणाचल प्रदेश और असम के कुछ हिस्सों में घना कोहरा छाया रहा।

 

 

 

आज के मौसम की संभावित गतिविधि : स्काईमेट वेदर (skymet weather) के अनुसार आज गुरुवार को बिहार, झारखंड, छत्तीसगढ़, ओडिशा, पश्चिम बंगाल, सिक्किम और पूर्वोत्तर भारत के कुछ हिस्सों में हल्की से मध्यम बारिश हो सकती है। अरुणाचल प्रदेश, असम, मेघालय, नगालैंड और सिक्किम में अलग-अलग स्थानों पर ओलावृष्टि हो सकती है। अंडमान और निकोबार द्वीप समूह, तमिलनाडु के दक्षिणी हिस्सों और लक्षद्वीप में हल्की बारिश संभव है।

 

 

बांग्लादेश के ऊपर एक चक्रवाती परिसंचरण औसत स्तर से 3.1 किमी ऊपर तक फैला हुआ है। एक अन्य चक्रवाती परिसंचरण औसत समुद्र तल से 1.5 और 3.1 किमी के बीच के क्षेत्र पर है। एक ट्रफ रेखा उत्तरी आंतरिक कर्नाटक से निचले स्तर पर पूर्वी विदर्भ तक फैली हुई है।

 

 

 

दिल्ली, हरियाणा और उत्तरप्रदेश में घना कोहरा : पंजाब, हरियाणा, दिल्ली और उत्तरप्रदेश के कुछ हिस्सों में सुबह और रात के दौरान घने  से बहुत घना कोहरा (dense fog) छा सकता है। उत्तराखंड, हिमाचल प्रदेश, उत्तरी मध्यप्रदेश, बिहार, उत्तरी राजस्थान, झारखंड, उपहिमालयी पश्चिम बंगाल, सिक्किम, मेघालय, नगालैंड, मणिपुर, मिजोरम और त्रिपुरा में घना कोहरा छा सकता है। पंजाब, हरियाणा, उत्तरप्रदेश और बिहार के कुछ हिस्सों में शीत दिवस (cold Day) की स्थिति बनी रह सकती है। अगले 2 दिनों के दौरान उत्तर-पश्चिम और पूर्वी भारत के हिस्सों में न्यूनतम तापमान में वृद्धि हो सकती है।

 

AriansRopsy

About Author

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may have missed