ओझागुणी के चक्कर में एक दिव्यांग युवक के हत्या की आशंका

0

झारखण्ड/पलामू (संवाददाता, निरंजन कुमार) : ज़िले के छतरपुर से एक बार फिर अंधविश्वास की वजह से एक युवक कि हत्या की खबर सामने आई है।

छतरपुर थाना अंतर्गत पिंडराही के 38 वर्षीय युवक कृष्णा सिंह की टांगी से काटकर हत्या कर दी गयी है। मृतक हर रोज की भांति गांव के ही एक अहरे के पाही पर मछलियों की रखवाली करने के ख्याल से सोया था, सुबह जब लोग वहां पहुंचे तो उसकी लाश देखी। जिसे काफी बेरहमी से मार दिया गया था।

जानकारी के मुताबिक कृष्णा की हत्या ओझा-गुणी के शक में ही की गयी है।

ग्रामीण सूत्रों के मुताबिक 15 दिन पूर्व भूत-भूतैया को लेकर पड़ोसियों से मृतक का काफी झगड़ा हुआ था। लोग उसे ओझा कहते थे। जबकि मृतक बार बार कहता था कि उसे तंत्र मंत्र से कोई लेना देना नहीं है।

घटना के बाद मृतक के परिवार, कुछ गांव वालों और पंचायत के मुखिया वीरेन्द्र सिंह उर्फ विनोद सिंह के साथ छतरपुर थाना पहुंचे हैं। पुलिस मामले की छानबीन कर रही है।

बता दें की करीब दस वर्ष पूर्व मृतक के पिता मुनेश्वर सिंह और मां रतनी देवी की भी ओझा गुणी के शक में बाज़ार जाने के क्रम में एक ही दिन टांगी से काटकर हत्या कर दी गयी थी। मृतक अपने मां-बाप का इकलौता बेटा था और दिव्यांग था। पुलिस ने मृतक का शव अपने कब्जा में ले लिया है और छानबीन कर रही है।

 

आकाश भगत

About Author

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *