• सुरक्षा बल की मौत

अगरतला (त्रिपुरा) : दक्षिण त्रिपुरा जिले में भारत-बांग्लादेश सीमा के समीप मवेशी तस्करों के साथ कहासुनी के बाद सीमा सुरक्षा बल (बीएसएफ) के कर्मी द्वारा गोली चलाने से 23 साल के एक व्यक्ति की मौत हो गयी।

 

 

पुलिस के अनुसार सोमवार को देवीपुर गांव में जब मवेशी तस्करों का एक समूह मवेशियों की बांग्लादेश में तस्करी कर रहा था तो बीएसएफ कर्मियों ने उसे रोका।

 

 

पुलिस का कहना है कि उसी बीच बीएसएफ कर्मियों एवं मवेशी तस्करों के बीच कहासुनी हो गयी और बीएसएफ के कर्मी ने गोली चला दी। गोली जाशिम मियां को लगी और बाद में अस्पताल में उसने दम तोड़ दिया।

 

 

जाशिम के पिता खलिक मियां ने आरोप लगाया कि वह गाय देखने सीमा के पास गये थे। तभी बीएसएफ कर्मियों ने उन्हें गालियां दीं।

 

 

इस बीच उनका बेटा उन्हें बचाने पहुंचा लेकिन दोनों पक्षों के बीच कहासुनी होने लगी एवं बीएसएफ कर्मी ने गोली चला दी।
ग्रामीणों ने दावा किया है कि स्नातक तक की पढ़ाई कर चुके जाशिम का अंतरराष्ट्रीय सीमा पर होने वाली मवेशियों की तस्करी या किसी अवैध घटना कोई लेना-देना नहीं था।

 

 

 

हालांकि सोमवार की रात को जारी की गयी बीएसफ की विज्ञप्ति के अनुसार सात आठ मवेशी तस्कर, मवेशियों की तस्करी के इरादे से सीमा के खंभे को नुकसान पहुंचा रहे थे और जब बीएसएफ कर्मियों ने विरोध किया तब वे उन पर लाठियों एवं छुरे से हमला करने के लिए टूट पड़े जिससे एक जवान गंभीर रूप से घायल हो गया।

 

 

 

विज्ञप्ति के अनुसार जब बड़ी संख्या में लोगों ने बीएसएफ कर्मियों को घेर लिया जब खतरा भांपकर उन्होंने गोलिया चला दीं और एक व्यक्ति घायल हो गया जिसकी बाद में अस्पताल में मौत हो गई।

आकाश भगत

About Author

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *