शुल्क जमा नहीं करने के चलते भारती बीएड कॉलेज ने 23 का नाम काटा, इसमें 17 एसटी छात्र

0

रांची यूनिवर्सिटी के भारती बीएड कॉलेज प्रबंधन ने शुल्क जमा नहीं करने के चलते 23 छात्रों का नाम काट दिया है। इसमें 17 आदिवासी स्टूडेंट्स है। नोटिफिकेशन में कहा गया है कि इन छात्रों ने कॉलेज के रुल्स-रेगुलेशन का भी पालन नहीं कर रहे हैं। नाम काटे जाने की भनक मिलते ही शुक्रवार को कॉलेज के मुख्य द्वारा पर छात्रों ने जमकर हंगामा किया। इस क्रम में प्रबंधन के विरोध में जमकर नारेबाजी की। आदिवासी छात्र संघ के बैनर तले प्रदर्शन कर रहे छात्रों ने कहा कि प्रबंधन द्वारा मनमाना शुल्क वसूला जा रहा है। इसके विरोध में आवाज उठाने वाले छात्रों को कॉलेज प्रबंधन द्वारा निकाल बाहर कर दिया गया है। सरकार का निर्देश था कि लॉकडाउन में शुल्क के लिए दबाव नहीं डाला जाए। प्रदर्शन का नेतृत्व कर रहे सुमित उरांव ने कहा कि आदिवासी छात्रों पर कॉलेज प्रबंधन सोची समझी साजिश के तहत कार्रवाई कर रहा है। भारती बीएड कॉलेज ऐसे शिक्षक को तैयार कर रहा है, जो गलत का विरोध नहीं करे। नामांकन तत्काल वापस नहीं लिया गया तो उग्र आंदोलन किया जाएगा। कहा कि प्रबंधन द्वारा परीक्षा शुल्क आठ गुना और विलंब शुल्क चार गुना वसूल किया जा रहा है। इधर, कॉलेज प्रबंधन इस मामले से संबंधित विस्तृत रिपोर्ट शनिवार को आरयू प्रशासन को सौंप देगा। यूनिवर्सिटी की चुप्पी के चलते बढ़ी बात रांची यूनिवर्सिटी मुख्यालय में एक सप्ताह पहले छात्रों ने डीएसडब्ल्यू डॉ. पीके वर्मा का घेराव किया था। प्रबंधन द्वारा मनमानी शुल्क लिए की शिकायत की थी। लेकिन इसके बाद विवि प्रशासन इस मामले चुप्पी साध ली। इस कारण बात आगे बढ़ गई। तब डीएसडब्ल्यू ने प्रदर्शन कर रहे छात्रों को आश्वासन दिया था कि छात्रों और प्रबंधन के बीच बैठक कराकर समस्या को शॉट आउट कर लिया जाएगा। इन छात्रों का कटा है नाम भारती बीएड कॉलेज के 23 छात्रों का नाम काटा गया है। इसमें अंजना तिर्की, निभा तिर्की, ललिता तिग्गा, मधु कुमारी, लालु यादव, निशु तिग्गा, अलका कुमारी, राम रतन महतो, वंदना मेहता, अंजली तिर्की, मनीषा कुजुर, जंयती कच्छप, दीपा कुमारी भगत, आरती कुमारी, पार्वती तिग्गा, अमृत पूर्ती, अनिला मोनिका एक्का, अनूप कुमार साहू, पूनम खलखो, रोशनी कुमारी, लक्ष्मी कुमारी, गुलाब लकड़ा और सुनीता मुंडा शामिल हैं।
Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today

रांची यूनिवर्सिटी मुख्यालय में एक सप्ताह पहले छात्रों ने डीएसडब्ल्यू डॉ. पीके वर्मा का घेराव किया था। प्रबंधन द्वारा मनमानी शुल्क लिए की शिकायत की थी।

About Author

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *