दिल्ली में कोरोना के लगातार बढ़ रहे मामले, प्राइवेट अस्पतालों में वेंटिलेटर से लैस ICU बेड भरे !

0

नयी दिल्ली। दिल्ली में बीते कुछ दिनों में कोरोना वायरस के मामलों के बढ़ने के बाद, राष्ट्रीय राजधानी के अधिकतर निजी अस्पतालों में वेंटिलेटर से लैस ज्यादातर आईसीयू बेड भर गए हैं। दिल्ली सरकार के ऑनलाइन कोरोना डैशबोर्ड के मुताबिक, सोमवार शाम 5.20 बजे तक वेंटिलेटर से लैस 1244 आईसीयू बेडों में से सिर्फ 394 खाली हैं। साकेत के मैक्स अस्पताल में (वेंटिलेटर से लैस 51 कुल आईसीयू बेड), शालीमार बाग के मैक्स अस्पताल (15), वसंत कुंज में फोर्टिस अस्पताल (सात), अपोलो अस्पताल, बीएलके अस्पताल (सात) में एक भी खाली बेड नहीं है।

डैशबोर्ड के मुताबिक, दिल्ली सरकार के एलएनजेपी अस्पताल में वेंटिलेटर से लैस 200 आईसीयू बेड में से सिर्फ आठ खाली हैं। इस अस्पताल में सिर्फ कोविड-19 के मरीजों को भर्ती किया जाता है। अन्य कोविड विशिष्ट अस्पताल राजीव गांधी सुपरस्पेशिलिटी हॉस्पिटल में शाम 5.20 बजे तक 200 में से 196 बेड खाली थे। आंकड़ों के मुताबिक, सफदरजंग अस्पताल में वेंटिलेटर से लैस 54 आईसीयू बेड में से एक, एम्स ट्रॉमा सेंटर में 50 में से पांच, राम मनोहर लोहिया में 28 में से छह बेड खाली हैं। दिल्ली में रविवार को कोरोना वायरस के 5664 नए मरीजों की पुष्टि हुई थी, जिसके बाद कुल मामले 3.92 लाख के पार चले गए हैं।

आकाश भगत

About Author

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *